BREAKING NEWS

मीडियाभारती वेब सॉल्युशन अपने उपभोक्ताओं को कई तरह की इंटरनेट और मोबाइल मूल्य आधारित सेवाएं मुहैया कराता है। इनमें वेबसाइट डिजायनिंग, डेवलपिंग, वीपीएस, साझा होस्टिंग, डोमेन बुकिंग, बिजनेस मेल, दैनिक वेबसाइट अपडेशन, डेटा हैंडलिंग, वेब मार्केटिंग, वेब प्रमोशन तथा दूसरे मीडिया प्रकाशकों के लिए नियमित प्रकाशन सामग्री मुहैया कराना प्रमुख है- संपर्क करें - 0129-4036474

बच्चों के लिए लॉन्च की गई कोरोना टेस्टिंग टॉय वैन

कोरोना की तीसरी लहर से पहले सभी राज्य आवश्यक तैयारी में जुट गए हैं। दिल्ली पुलिस ने भी बच्चों के कोविड टेस्ट के लिए अनोखी पहल की है। बच्चों की कोरोना जांच के लिए एक कोरोना टेस्टिंग टॉय वैन को लॉन्च किया गया है।
 
बच्चों के लिए खासतौर पर किया गया तैयार टेस्टिंग वैन


राजधानी दिल्ली में कोरोना माहामारी की संभावित तीसरी लहर का बच्चों पर खतरा देखते हुए दिल्ली पुलिस ने बच्चों की कोरोना जांच के लिए एक कोरोना टेस्टिंग टॉय वैन को लॉन्च किया है। यह कोविड टेस्टिंग टॉय वैन स्टार इमेजिंग एंड पैथ लैब की ओर से तैयार की गई है, जो कि दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में जाकर बच्चों की कोरोना जांच करेगी। इसमें सबसे ज्यादा ध्यान देने वाली बात यह है कि इसे बच्चों के हिसाब से तैयार किया गया है, जिससे कि बच्चे इस वैन में खुशी-खुशी बैठकर आराम से अपना कोविड-19 टेस्ट करवा सकें।
 
बच्चों की कोरोना सैंपल इकट्ठा करेगी वैन
 
पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, मध्य जिला पुलिस की ओर से इस वैन को लॉन्च किया गया है, जिसको लेकर मध्य जिला की एडिशनल डीसीपी श्वेता सिंह चौहान ने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों के लिए खतरे को देखते हुए इस टेस्टिंग वैन को तैयार किया गया है। यह दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में जाकर बच्चों की कोरोना टेस्टिंग सैंपल इकट्ठा करेगी।
पुलिस के अनुसार, इस तरीके की तीन वैन तैयार की गई हैं। जिसमें से एक वैन दिल्ली पुलिस मध्य जिला पुलिस को दी गई है। इस वैन को बच्चों के लिए खासतौर पर तैयार किया गया है। जिससे बच्चे आसानी से इस वैन में बैठकर बिना डरे अपना कोरोना टेस्ट करवा सकें।
 
अलग-अलग कार्टून से सजाया गया वैन
पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, छोटे बच्चे आसानी से टेस्ट करवाने के लिए नहीं मानते, ऐसे में इस वैन को अलग-अलग कार्टून कैरेक्टर के पोस्टर से सजाया गया है। वैन के अंदर बच्चों के लिए खिलौने रखे गए हैं और बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए टेस्ट कराने के बाद गिफ्ट भी दिया जा रहा है। इसके साथ ही वैन में मौजूद लैब टेक्नीशियन सोनल त्यागी ने बताया कि एक साल से अधिक उम्र के बच्चों का आरटी-पीसीआर एंटीजन, एंटीबॉडी टेस्ट किए जाने की सुविधा है। इसके लिए स्वैब के जरिए बच्चों के नाक और मुंह से सैंपल लिया जा रहा है।

नारद संवाद

वाहन रिकॉल पोर्टल: गाड़ी में है डिफेक्ट तो करें सरकार से शिकायत, जानिए कैसे

Read More

हमारी बात

कारगिल विजय दिवस: अंतिम सांस तक लड़ते रहे वीर सपूत

Read More

Bollywood


विविधा

स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों में सरकार की पहल से पहुंच रहा सुरक्षित जल

Read More

शंखनाद

अंतरिक्ष की दुनिया की बड़ी खोज में भारतीय वैज्ञानिकों ने निभाई महत्वपूर्ण भूमिका

Read More