BREAKING NEWS

मीडियाभारती वेब सॉल्युशन अपने उपभोक्ताओं को कई तरह की इंटरनेट और मोबाइल मूल्य आधारित सेवाएं मुहैया कराता है। इनमें वेबसाइट डिजायनिंग, डेवलपिंग, वीपीएस, साझा होस्टिंग, डोमेन बुकिंग, बिजनेस मेल, दैनिक वेबसाइट अपडेशन, डेटा हैंडलिंग, वेब मार्केटिंग, वेब प्रमोशन तथा दूसरे मीडिया प्रकाशकों के लिए नियमित प्रकाशन सामग्री मुहैया कराना प्रमुख है- संपर्क करें - 0129-4036474

लौंग के चमत्कारी टोटके , इन उपायों से बदल सकती है किस्मत

हिंदू धर्म में किसी मांगलिक अथवा धार्मिक पूजा पाठ में लौंग का बहुत महत्व हैं। टोने-टोटके के लिए लौंग को वरदान माना गया है। ज्योतिष शास्त्र में लौंग को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है। लौंग का इस्तेमाल पूजा-पाठ में भी किया जाता है। लौंग घर से नकारात्मक ऊर्जा को बाहर करने का भी काम करती है। ज्योतिष शास्त्र में भी लौं के कई ऐसे उपाय बताए गए हैं जिनके इस्तेमाल से ग्रहों को शांत किया जा सकता है। छोटी सी लौंग ना सिर्फ सेहत के लिए फायदेमंद है बल्कि इससे जुड़े ज्योतिष उपाय भी विशेष लाभ दिलाते हैं। धन लाभ, संकटों से छुटकारा पाने और भाग्य को मजबूत करने के लिए लौंग के टोटके बहुत उपयोगी माने जाते हैं। लौंग के इन टोटकों से राहु-केतु दोष भी दूर किया जा सकता है। ज्योतिष शास्त्र में लौंग के कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं, जो तुंरत असर दिखाते हैं। यदि आप भी अपनी किस्मत बदलना चाह रहे हैं और आपका सपना है कि आप अपने करियर में खूब तरक्की करें तो आप लौंग के इस उपाय को आजमा सकते हैं। आइए जानते हैं लौंग के इस चमत्कारी उपाय से किस्मत बदलने के टोटके . . .


हर शनिवार दान करें लौंग, कम होगा राहु-केतु का प्रभाव
लौंग के टोटके से राहु-केतु का बुरा प्रभाव कम किया जा सकता है कुंडली में राहु-केतु दोष है तो आपको हर शनिवार को लौंग का दान करना चाहिए। इसके अलावा आप शिवलिंग पर भी लौंग अर्पित कर सकते हैं। 40 दिनों तक लगातार ऐसा करने से सारे बुरे प्रभाव खत्म होते हैं और घर में खुशहाली आती है।

घर से निकलते वक्त मुँह में रखें दो लौंग
किसी जरूरी काम से बाहर जा रहे हैं तो घर से बाहर निकलते वक्त मुंह में दो लौंग रखकर निकलें और कार्यस्थल पर लौंग के कुछ अवशेष मुंह से फेंक दें। अपने ईष्टदेव का ध्यान करते हुए उस कार्य में सफलता के लिए प्रार्थना करें। ऐसा करने से आपको उस कार्य में सफलता मिल सकती है।

हनुमानजी के सामने जलाए दो लौंग के साथ चमेली के तेल का दीपक
लाख मेहनत के बाद भी आपका कोई काम पूरा नहीं होता है या फिर आपको सफलता नहीं मिलती है तो मंगलवार के दिन हनुमानजी की मूर्ति के सामने चमेली के तेल का दीपक जलाएं। इस दीपक में दो लौंग डाल दें और इसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ और आरती करें। ऐसा लगातार 21 मंगलवार तक करने से आपको मेहनत का फल मिलेगा।

गुलाब के साथ माता लक्ष्मी को अर्पित करें दो लौंग
घर में आर्थिक तंगी रहती है तो माता लक्ष्मी को गुलाब के फूलों के साथ दो लौंग भी पूजा में अर्पित करें। इसके अलावा एक लाल रंग के कपड़े में 5 लौंग और 5 कौडिय़ों बांधकर तिजोरी या फिर अलमारी में रख दें। ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा होती है और घर में धन का आगमन होता है।

नकारात्मक ऊर्जा दूर करने के लिए
यदि आपके घर में बार-बार कलह की स्थति उत्पन्न होती है तो आप रविवार के दिन 5 लौंग और 3 बड़ी इलायची लें। इसे पूजा वाले घर में कपूर के साथ जलाएं। इसके बाद इसे घर के चारों तरफ दिखाएं। इससे घर में पॉजिटिविटी आती है।

कार्यों में सफलता के लिए
यदि आपका कोई कार्य लंबे समय से अटका हुआ और उसमें सफलता नहीं मिल रही है, तो मंगलवार के दिन चमेली के तेल में एक लौंग का जोड़ा डालकर दीपक जलाएं। इसके बाद हनुमान चालीसा का पाठ करें। ऐसा करने से हनुमान जी की कृपा से आपके कार्यों में आ रही संकट दूर हो जाएगी और आपको उस कार्य में सफलता मिलने लगेगी।

धन में तरक्की के लिए
यदि आप पर कर्जों का बोझ बढ़ गया है, जिसके चलते आपको परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, तो शुक्रवार के दिन 5 लौंग और 5 कौडिय़ां लेकर इसे लाल कपड़े में बाधकर तिजोरी में या पैसा रखने वाले स्थान पर रख दें। ऐसा करने से आपके धन के आवक में वृद्धि हो जाएगी।

अटके धन की प्राप्ति के लिए
यदि आपका पैसा कहीं पर फंस गया है और आपको लग रहा है कि आपका पैसा डूब जाएगा, तो अमावस्या या पूर्णिमा की रात में 21 लौंग जलाकर मां लक्ष्मी का ध्यान करें। इससे आपका रुका हुआ धन प्राप्त हो जाएगा।

राहु-केतु के प्रभाव को दूर करने के लिए
यदि आप पर राहु या केतु का प्रभाव है, जिसके वजह से आपको परेशानियों का सामना करना पड़ता है तो शनिवार के दिन 21 साबुत लौंग यानी फूल वाले लौंग का दान करें। इस उपाय को 11 शनिवार करने से आपके कुंडली से राहु का दोष खत्म हो जाता है। साथ ही आपके धन-दौलत में तरक्की होने लगेगी।

आलेख में दी गई जानकारियों को लेकर हम यह दावा नहीं करते कि यह पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

 

साभार-khaskhabar.com

नारद संवाद


हमारी बात

Bollywood


विविधा

अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस: भारत में क्या है बाल श्रम की स्थिति, क्या है कानून और पुनर्वास कार्यक्रम

Read More

शंखनाद

Largest Hindu Temple constructed Outside India in Modern Era to be inaugurated on Oct 8

Read More