BREAKING NEWS

मीडियाभारती वेब सॉल्युशन अपने उपभोक्ताओं को कई तरह की इंटरनेट और मोबाइल मूल्य आधारित सेवाएं मुहैया कराता है। इनमें वेबसाइट डिजायनिंग, डेवलपिंग, वीपीएस, साझा होस्टिंग, डोमेन बुकिंग, बिजनेस मेल, दैनिक वेबसाइट अपडेशन, डेटा हैंडलिंग, वेब मार्केटिंग, वेब प्रमोशन तथा दूसरे मीडिया प्रकाशकों के लिए नियमित प्रकाशन सामग्री मुहैया कराना प्रमुख है- संपर्क करें - 0129-4036474

एक्सप्रेस वे पर नौहझील क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हुई डबल डेकर बस

मथुरा। यमुना एक्सप्रेस वे पर कानपुर से दिल्ली जा रही डबल डेकर बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। बुधवार की सुबह करीब चार बजे हादसा हुआ। जिसमें एक दर्जन के करीब सवारियों घायल हुई हैं। जबकि बस में कुल 55 से 60 यात्री सवार थे। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि बाकी सवारियों को दूसरे वाहनों के माध्यम से उनके गंतव्य के लिए रवाना कर दिया गया था। हादसा उस समय हुआ जब डबल डेकर बस संख्या 78 एफएन 9216 सुबह करीब चार बजे नौहझील क्षेत्र में माइन स्टोन 67 के करीब पहुंची। इसे बाजना कट के नाम से जाना जाता है। यहां एक्सप्रेस वे पर एक कट है जो बाजना कस्बे को एक्सप्रेस वे से जोड़ता है। तेज रफ्तार बस का अचानक टायर फट गया और बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई। डिवाइडर से टकराने के बाद बस पलट गई। बस के पलटते ही बस के अंदर बैठी सवारियों में चीख पुकार मच गई। गनीमत यह रही कि बस एक्सप्रेस वे से नीचे सर्विस रोड की ओर पलटी नहीं, ऐसा होने पर हादसा और गंभीर हो सकता था। हादसे की सूचना मिलने पर थाना नौहझील और बाजना कट पुलिस चौकी से पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए। घटनास्थल पर पहुंचे इंस्पेक्टर नौहझील प्रदीप यादव व बाजना कट प्रभारी दिलीप कुमार के मुताबिक सर्वप्रथम बस में फंसे यात्रियों को बाहर निकाला गया। इनमें से कई सवारियां घायल हुई थीं। आनन फानन में घायलों को एंबुलेंस की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नौहझील भेजा गया। वहीं, अन्य यात्रियों को दूसरे वाहनों में बैठाकर अपने गंतव्य की ओर रवाना किया गया। बस के पलटने से जाम की स्थिति बन रही थी, क्रेन की मदद से मुख्य मार्ग से बस को हटाया गया। नौहझील सीएचसी प्रभारी ने बताया कि घायलों में हिमांशु यादव, मोना शर्मा, सचिन निवासी कानपुर देहात, गोलू यादव, मोहित प्रजापति कानपुर नगर, कुंवर बहादुर निवासी फर्रुखाबाद, विमल पोरवाल निवासी औरैया, अमीन धारमपुर व अजहर हैं। जिन्हें उपचार देने के बाद अपने गंतव्य को भेज दिया गया है।

नारद संवाद

ई-श्रम कार्ड से असंगठित श्रमिकों की जिंदगी में आएगा बदलाव, जानें क्यों है जरूरी

Read More

हमारी बात

Bollywood


विविधा

अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस: भारत में क्या है बाल श्रम की स्थिति, क्या है कानून और पुनर्वास कार्यक्रम

Read More

शंखनाद

भारत बढ़ा रहा अंतरिक्ष क्षेत्र में अपनी पैठ

Read More