BREAKING NEWS

मीडियाभारती वेब सॉल्युशन अपने उपभोक्ताओं को कई तरह की इंटरनेट और मोबाइल मूल्य आधारित सेवाएं मुहैया कराता है। इनमें वेबसाइट डिजायनिंग, डेवलपिंग, वीपीएस, साझा होस्टिंग, डोमेन बुकिंग, बिजनेस मेल, दैनिक वेबसाइट अपडेशन, डेटा हैंडलिंग, वेब मार्केटिंग, वेब प्रमोशन तथा दूसरे मीडिया प्रकाशकों के लिए नियमित प्रकाशन सामग्री मुहैया कराना प्रमुख है- संपर्क करें - 0129-4036474

आदिपुरुष: वीएफएक्स के चलते 100 करोड़ बढ़ी लागत, निर्माताओं का 500 करोड़ दांव पर

भारतीय सिनेमा के नए सुपर सितारे प्रभास की आने वाली फिल्म आदिपुरुष एक बार फिर से चर्चाओं में आ गई है। पिछले कुछ समय से अपने वीएफएक्स के चलते ट्रोलर्स के निशाने पर आई इस फिल्म के निर्माताओं ने अपनी फिल्म को दर्शकों के अनुरूप बनाने के लिए न सिर्फ इसकी प्रदर्शन तिथि में बदलाव किया है, अपितु इसके वीएफएक्स पर फिर से काम करने की घोषणा की है।

आदिपुरुष पर हर किसी की नजर है। कुछ वक्त पहले ही इस फिल्म का टीजर निर्माताओं ने जारी किया था। जिसे भारी आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा था। फिल्म के टीजर की भयंकर ट्रोलिंग के बाद निर्माताओं को विश्वास हो गया कि यदि दर्शकों और ट्रोलर्स की आलोचनाओं पर ध्यान नहीं दिया तो बॉक्स ऑफिस पर हमें असफलता हाथ लगेगी। इसी के चलते अब यह फिल्म पहले से तय प्रदर्शन तारीख मकर संक्रांति 2023 के मौके पर प्रदर्शित नहीं हो रही है। निर्माताओं ने इस फिल्म को जून 2023 तक के लिए पोस्टपोन कर दिया है। अब यह फिल्म 16 जून 2023 को सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी।

बताया जा रहा है कि निर्माताओं ने वीएफएक्स की गलतियों को सुधारने का निर्णय लिया है। जिसके लिए फिल्म पर दोबारा से काम करना पड़ रहा है। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार निर्माता फिल्म के वीएफएक्स और सीजी वर्क पर दोबारा से काम करने की तैयारी कर रहे हैं। निर्माताओं द्वारा किए जा रहे री वर्क पर लगभग 100 करोड़ का खर्चा आएगा। रीवर्क के चलते ही यह फिल्म अपने तय समय 12 जनवरी को प्रदर्शित न होकर अब 16 जून 2023 को प्रदर्शित होगी।

तान्हाजी फेम निर्देशक ओम राउत की इस फिल्म का टीजर कुछ वक्त पहले ही रिलीज हुआ था। टीजर में दिखाए गए सैफ अली खान के लुक और हनुमान के लुक को लेकर काफी ट्रोल किया गया था। यही नहीं, फिल्म पर रामायण को गलत तरीके से पेश करने के आरोप भी लगे थे। फिल्म के टीजर के बाद रामानंद सागर की रामायण के मेन राम, सीता और लक्षमण जैसे किरदारों को निभाने वाले एक्टर्स अरुण गोविल, दीपिका चिखलिया और सुनील लहरी ने भी इसकी आलोचना की थी। अब देखने वाली बात यह है कि 100 करोड़ की बड़ी राशि लगाकर निर्माता इस फिल्म में क्या-क्या बदलाव करते हैं, क्योंकि इतनी बड़ी राशि में भी एक नई फिल्म बनकर तैयार हो जाती है। निर्माताओं द्वारा फिल्म की बेहतरी के लिए उठाए जाने वाले यह कदम फिल्म की सफलता में सहायक बनेंगे या नहीं यह तो जून 16 को पता चलेगा जब फिल्म सिनेमाघरों में उतरेगी।

साभार-khaskhabar.com

 

नारद संवाद


हमारी बात

Bollywood


विविधा

अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस: भारत में क्या है बाल श्रम की स्थिति, क्या है कानून और पुनर्वास कार्यक्रम

Read More

शंखनाद

Largest Hindu Temple constructed Outside India in Modern Era to be inaugurated on Oct 8

Read More