BREAKING NEWS

मीडियाभारती वेब सॉल्युशन अपने उपभोक्ताओं को कई तरह की इंटरनेट और मोबाइल मूल्य आधारित सेवाएं मुहैया कराता है। इनमें वेबसाइट डिजायनिंग, डेवलपिंग, वीपीएस, साझा होस्टिंग, डोमेन बुकिंग, बिजनेस मेल, दैनिक वेबसाइट अपडेशन, डेटा हैंडलिंग, वेब मार्केटिंग, वेब प्रमोशन तथा दूसरे मीडिया प्रकाशकों के लिए नियमित प्रकाशन सामग्री मुहैया कराना प्रमुख है- संपर्क करें - 0129-4036474

बिजली बचाने के लिए आज से पंजाब के दफ्तरों में कामकाज सुबह 7.30 बजे से दोपहर 2 बजे तक चलेगा

चंडीगढ़। गर्मी के मौसम के दौरान बिजली बचाने की पहल के तहत पंजाब भर के सरकारी दफ्तरों में मंगलवार से नया टाइमटेबल लागू हुआ। सुबह 7.30 बजे कामकाज शुरू हुआ जो दोपहर 2 बजे तक चलेगा। मुख्यमंत्री भगवंत मान समय से दो मिनट पहले दफ्तर पहुंचे। कार्यालय का नया समय 15 जुलाई तक लागू रहेगा। राज्य और चंडीगढ़ में स्थित सभी सरकारी कार्यालयों के समय में बदलाव किया गया है।

मान ने कार्यालय पहुंचने पर मीडिया को बताया कि इस पहल से प्रतिदिन औसतन 350 मेगावाट बिजली की बचत होगी, क्योंकि सरकारी कार्यालयों में बड़ी मात्रा में खपत होती है। उन्होंने कहा, 'अगर कार्यालय के समय में बदलाव का यह प्रयोग सफल होता है और कर्मचारी से अच्छी प्रतिक्रिया मिलती है तो इसे बढ़ाया जा सकता है।'

मुख्यमंत्री ने कहा कि नई टाइमिंग से लगभग 40 करोड़ रुपये की बचत होगी और बिजली की कमी के कारण वाणिज्यिक, आवासीय और ग्रामीण क्षेत्रों में इस सीजन में बिजली कटौती नहीं होगी। दोपहर 1 बजे के बाद से पीक बिजली लोड शुरू हो जाता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समय में बदलाव से अधिकांश शहरों और कस्बों में व्यस्ततम कार्यालय समय के दौरान यातायात का भार भी कम होगा।

अमन अरोड़ा, हरपाल चीमा, ब्रह्म शंकर, हरभजन सिंह और कुलदीप सिंह धालीवाल सहित अधिकांश अन्य मंत्री नए समय के अनुसार कार्यालय पहुंचे।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि फील्ड कार्यालयों, सिविल सचिवालय और अन्य प्रधान कार्यालयों सहित सभी कार्यालयों के लिए नया समय समान रूप से लागू किया जाएगा।

सरकार के अनुसार, सुबह-सुबह कार्यालय खुलने से अत्यधिक गर्मी के दौरान बिजली की खपत में काफी कमी आने की उम्मीद है, जब बिजली की मांग सबसे अधिक होती है।(


साभार-khaskhabar.com

नारद संवाद


हमारी बात

Bollywood


विविधा

अंतर्राष्ट्रीय बाल श्रम निषेध दिवस: भारत में क्या है बाल श्रम की स्थिति, क्या है कानून और पुनर्वास कार्यक्रम

Read More

शंखनाद

Largest Hindu Temple constructed Outside India in Modern Era to be inaugurated on Oct 8

Read More