Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

यातायात माह : सतर्कता के चलते वाहन दुर्घटनाओं में कमी आई || MATHURA : संत सम्मेलन में बोले यमुना भक्त || Mathura : मुडेसी के शनिदेव मंदिर पहुंचे किरोड़ीमल बैंसला || MATHURA : मोटरसाइकिल बरामद, दो चोर पकड़े || MATHURA : उपमंडी से 1.45 लाख रूपये का बाजरा चोरी || MATHURA POLICE : पुलिस ने की कार्यवाही, पकडी 18 लाख की शराब

REVIEW : आयुष्मान खुराना की एक और लाजवाब फिल्म है बाला, ये हैं खूबियां

फिल्म : बाला
निर्देशक : अमर कौशिक
निर्माता : दिनेश विजान
कलाकार : आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर, यामी गौतम, सौरभ शुक्ला


पिछले कुछ समय से आयुष्मान खुराना निर्माता-निर्देशकों के लिए काफी लकी साबित हो रहे हैं। आयुष्मान अपनी दमदार एक्टिंग से दर्शकों का दिल जीतने में सफल रहते हैं और उनकी फिल्में बढिय़ा बिजनेस करती है। आज शुक्रवार (8 नवंबर) को बड़े पर्दे पर आई बाला मूवी भी कुछ इसी दिशा में बढ़ती नजर आ रही है। इसे भारत में 3000 और विदेशों में 550 से ज्यादा स्क्रीन पर रिलीज किया गया है। रिलीज के मामले में यह आयुष्मान की नं.1 फिल्म बन गई है।

आयुष्मान की दूसरी फिल्मों की तरह इस मूवी की स्टोरी भी लीक से हटकर है। फिल्म में मुख्य किरदार बालमुकुंद शुक्ला (आयुष्मान) का है। बचपन में बाला की पहचान लंबे बालों और जबरदस्त एटीट्यूड से थी। स्कूल में भी उनकी हेयर स्टाइल स्पेशल थी और वे सबका मजाक उड़ाते रहते हैं। हालांकि बाला जब 25 साल के हुए तो उनके बाल झडऩा शुरू हो जाते हैं और वे हंसी के पात्र बन जाते हैं।

बालों को बचाने के लिए बाला खूब नुस्खे इस्तेमाल करते हैं, लेकिन पार नहीं पड़ती। थक-हारकर वे नकली बालों (विग) का सहारा लेते हैं। फिल्म में दो हीरोईन भी हैं। काले रंग की वजह से बचपन से लोगों का ताना सुनती आईं लतिका त्रिवेदी (भूमिका) अपने क्लासमेट बाला को बीच-बीच में छेड़ती रहती। फिर बाला की जिंदगी में आती हैं परी मिश्रा (यामी)। दोनों की शादी हो जाती है। इसके बाद आते हैं ट्विस्ट। बाला का परिवार कानपुर में रहता है और परी लखनऊ की रहने वाली है। आयुष्मान के साथ भूमिका व यामी ने भी लाजवाब एक्टिंग की है। कहानी आपको हमेशा बांधे रखती है। पहले सीन से लेकर आखिरी सीन तक आपको सीट छोडऩे का मन नहीं करेगा। कहानी, डायलॉग, स्क्रीनप्ले, म्यूजिक भी शानदार है। जुबीन नौटियाल और असीस कौर की आवाज में प्यार तो था ट्रैक काफी पीसफुल है। टकीला और डॉन्ट बी शाए सॉन्ग भी शानदार हैं। मूवी का क्लाइमेक्स आपको ताली बजाने पर मजबूर कर देगा और क्लाइमेक्स जानने के लिए आपको सिनेमाघर जाना पड़ेगा। कमियों की बात करें तो फिल्म का फस्र्ट हाफ बीच-बीच में हल्का-सा स्लो है। साथ ही अगर आप परिवार के साथ मूवी देखने गए हैं तो इसमें कुछ ऐसे शब्दों का इस्तेमाल किया गया है, जो आपको थोड़ा अनईजी फील करा सकते हैं।

 


 साभार-khaskhabar.com

 


संपादकीय

विशाल अग्रवाल ने बताया कि चालान सिर्फ ट्रफिक पुलिस काटे सभी पुलिस कर्मियों को इसकी जिम्मेदारी न दी जाये तो 50 प्रतिशत तक सही तरीके से काम हो पायेगा। जबकि आकाशवाणी के पूर्व उद्घोषक श्रीकृष्ण शरद, राकेश रावत एडवोकेट, पी0 के0 वार्ष्णेय, अरविन्द चौधरी, जगन्नाथ पौद्दार, पवन शर्मा, महेन्द्र राजपूत, जितेन्द्र गर्ग, सपन साहा, प्रताप विश्वास इन सभी ने माना कि इसमें पुलिस का फायदा अधिक होगा।  

Read More

तीसरी आंख

कोसीकला पुलिस ने 10 लाख की अंग्रेजी शराब पकडी

Read More

Bollywood

दर्शन