Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

कर्नाटक में बस में आग लगी, परिवार के 5 लोग जिंदा जले || संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले-स्वदेशी का मतलब विदेशी वस्तुओं का बहिष्कार नहीं || वाराणसी : अतिरिक्त सीएमओ की कोरोना से मौत, परिजनों को दिया दूसरे का शव

बाल संप्रेक्षण गृह की सुरक्षा पर फिर उठे सवाल

मथुरा। जिलाधिकारी आवास से कुछ ही दूरी पर स्थित राजकीय बाल संप्रेक्षण गृह (बाल सुधार गृह) से 14 बाल कैदी फरार हो गए। चार महीने के अंदर संप्रेक्षण गृह से बाल कैदियों के भागने की यह दूसरी घटना है। इससे पहले 17 मार्च को 5 बाल कैदी गार्ड के साथ मारपीट कर भाग निकले थे। यह घटना बुधवार की रात तकरीबन 2ः30 बजे की है। बाल कैदी संप्रेक्षण गृह की खिड़की को तोड़कर वहां से भाग निकले।

संप्रेक्षण गृह पर तैनात गार्ड ने बाल कैदियों को भागते हुए देख लिया। उसने पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कप मच गया। फरार हुए बाल कैदियों को खोजने के लिए पुलिस टीमें दौड़ने लगीं। यह जानने के लिए कि कितने बाल कैदी भागे हैं आनन फानन मंे बाल कैदियों की गिनती कराई गयी। इस बीच पुलिस टीमें भागे हुए कैदियों की तलाश में जुट गईं।


पुलिस टीमों ने गुरुवार की सुबह होने तक सात किशोरों को पकड़ लिया है। बताया जा रहा है कि किशोर बंदियों ने बच्चा जेल में मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता अच्छी न होने से व्यथित होकर यह कदम उठाया है। पकड़े गए किशोर बंदियों ने पूछताछ में पुलिस को जो जानकारी दी है, वह चैकाने वाली है। उनको सही तरह से खाना पीना नही दिया जा रहा था। इसको लेकर वह असंतुष्ट थे। इसी को लेकर किशोर बंदियों ने बगावत करना शुरू कर दिया था। गत शुक्रवार को बंदियों ने भूख हड़ताल भी रखी थी।  

राजकीय संप्रेक्षण गृह किशोर से पांच किशोर 17 मार्च 2020 की शाम होमगार्ड के साथ मारपीट कर भाग निकले थे। बाद में इन्हें पकड लिया गया था। राजकीय संप्रेक्षण गृह किशोर के गेट पर पर शाम को तकरीबन साढ़े सात बजे एक किशोर पानी लेने के लिए आया था। होमगार्ड को उसने बताया कि जेलर ने पानी मंगाया है। किशोर जैसे ही बोतल लेकर आगे आया और होमगार्ड करन सिंह ने गेट खोला तभी पीछे से चार किशोर और आ गए। पांचों किशोर होमगार्ड से मारपीट कर भाग निकले थे।  

सुबह जैसे ही जानकारी हुई, यहां आकर सब चीजों को देखा गया है। बच्चों से भी बात हुई है। आज की जो घटना है उसकी जानकारी करने पर पता हुआ है कि रात में दो से तीन बजे के बीच में जंगला उखाड कर 14 बच्चे निकले हैं। जिनमें से सात मिल गये हैं। सुधार गृह में इस समय लगभग 106 बच्चे आवासित हैं, क्षमता कम है और अधिक बच्चे हैं। सर्वज्ञराम मिश्र, जिलाधिकारी मथुरा

रात को 14 किशोर भाग थे। पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए 7 किशोर को सकुशल पकड़ लिया है। अन्य की बरामदगी के लिए पुलिस टीम लगी हुई। ये सभी भिन्न भिन्न मुकदमों में बंद थे। तहरीर मिलते ही एफ आई आर दर्ज की जाएगी और इस मामले में जो भी संलिप्त होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पूरे जिले में इसकी सूचना करा दी गई है।डॉ गौरव ग्रोवर, एसएसपी मथुरा


कोरोना विशेष

मथुरा। मुड़िया मेला, हरियाली तीज, रक्षाबंधन के बाद अब श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर कोरोना का ग्रहण लग गया है। राधाष्टमी, बल्देव छठ जैसे ब्रज के आंचलिक आयोजन भी बिना भीडभाड के होंगे। मंदिरों पर भीड नहीं है।  

Read More

हमारी बात

मथुरा। देशभक्ति के कितने ही स्वरूप हो सकते हैं। कोरोना संकट ने ये साबित कर दिया कि देशभक्ति दिखने के लिए आप के आपके पास किसी भी जगह मौका है। एक नौजवान चिकित्सक ने कोरोना के मरीजों के इलाज में अपनी पूरी ताकत झौंक दी है।  

Read More

Bollywood

दर्शन