Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

मथुरा : तीन में से दो शिक्षकाएं मेडिकल लीव पर मिलीं || MATHURA : अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा ने किए मेधाओं का सम्मान || MATHURA : आतंकवाद से लडते हुए इंदिरा गांधी ने दी प्राणों की आहुतिः माथुर || MATHURA : दो युवकों को मुठभेड के बाद किया पुलिस ने गिरफ्तार

चमत्कारी पहाड़ी! यहां गर्भवती महिला के पत्थर फेंकने से पता चलता है पेट में...

आमतौर पर महिला के गर्भ में पल रहे शिशु के लिंग का पता करने के लिए सोनोग्राफी सहारा लिया जाता है, मगर ये कानूनी रूप से अपराध है। आइए आज हम आपको एक ऐसी प्राचीन पहाड़ी के बारे में बताने जा रहे है जो गर्भ में पल रहे नवजात लड़का है या लड़की इस बारे में जानकारी देती है। बता दें कि झारखंड के लोहरदगा स्थित खुखरा गांव में यह पहाड़ी है।

वहां रहने वाले गांव के लोगों का कहना है कि बिना पैसे खर्च किए हम यह बात पता कर सकते हैं। यहां यह रिवाज 400 साल पहले नागवंशी राजाओं के शासन काल से चली आ रही है। गांव के बुर्जुग लोगों के अनुसार, इस पहाड़ी पर चांद के आकार की आकृति बनी हुई है, जो नवजात शिशु के लिंग के बारे में बताती है। बता दें कि इस पड़ाडी पर गर्भवती महिला एक निश्चित दूरी से पत्थर मारकर इस बात का पता लगा सकती है। यदि गर्भवती महिला का पत्थर जाकर ठीक चंद्रमा के आकार में लगता है तो माना जाता है कि गर्भ में लड़का है और यदि वह पत्थर चंद्रमा के बाहर लगे तो माना जाता है कि गर्भ में पल रही नवजात लड़की है।


साभार-khaskhabar.com

 


संपादकीय

विशाल अग्रवाल ने बताया कि चालान सिर्फ ट्रफिक पुलिस काटे सभी पुलिस कर्मियों को इसकी जिम्मेदारी न दी जाये तो 50 प्रतिशत तक सही तरीके से काम हो पायेगा। जबकि आकाशवाणी के पूर्व उद्घोषक श्रीकृष्ण शरद, राकेश रावत एडवोकेट, पी0 के0 वार्ष्णेय, अरविन्द चौधरी, जगन्नाथ पौद्दार, पवन शर्मा, महेन्द्र राजपूत, जितेन्द्र गर्ग, सपन साहा, प्रताप विश्वास इन सभी ने माना कि इसमें पुलिस का फायदा अधिक होगा।  

Read More

तीसरी आंख

बिहार, पूर्वी यूपी के लिए शराब तस्करी का ’प्रवशे द्वार’ बना मथुरा

Read More

Bollywood

दर्शन