Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

MATHURA : दुकानदारों से कहा सोशल डिस्टेंसिंग बनाएं || MATHURA : तीन माह के बिजली बिल, फीस माफी को चलाया हस्ताक्षर अभियान || MATHURA : धार्मिक संगठन और संस्थाएं लगातार कर रहीं सरकार से मदद की अपील || MATHURA : सीडीओ ने मांट में विकास कार्यों का जायजा लिया || कोरोना संकट : परिवारों को पहुंचाये राशन बैग

MATHURA : एकत्रित किये मंडल के 1500 प्रवासी मजदूर

मथुरा। जिला प्रशासन द्वारा नये बस स्टैण्ड के पास शहर की मध्य में स्थित बीएसए इंजी कॉलेज के अंदर पूरे आगरा मंडल के सभी जिलों से लगभग 1500 से लोगों को अलग-अलग जनपदों से बसों के माध्यम से लाया गया। जिससे स्थानी लोगों में इतनी बड़ी संख्या में बाहरी लोगों के आने की सूचना से हडकंप मच गया। बीएसए इंजीनियरिंग कॉलेज के आसपास बनी हुई दर्जनों कॉलोनी के लोग आशंकित हो उठे। आनन-फानन में पार्षद और दूसरे लोगों को सक्रिय किया गया। बीएसए इंजीनियरिंग कॉलेज पहुंचकर नगर निगम वार्ड नंबर 45 के पार्षद चैधरी तिलकवीर को फोन बुलाया गया। पार्षद ने प्रशासनिक अधिकारियों से बात करने के बाद लोगों को शांत करवाया और भविष्य में यहां पर किसी भी प्रकार की प्रशासन के द्वारा भीड़ इकट्ठी  न किये जाने की बात कही। दूसरी ओर प्रशासन को बार-बार फोन किये गये लेकिन के लोगों को किसी भी प्रकार की खाने पीने की सुविधा नहीं दी गयी। प्रशासन की अव्यवस्था के कारण बच्चे भूख से परेशान थे। पानी नहीं मिलने से प्यास से बहुत ज्यादा परेशान थे। जिनको रेलगाड़ी से कोलकाता जाना था इसलिए मथुरा से चलने वाली ट्रेन के लिए मथुरा में लाया गया था।
स्थानीय लोगों का कहना था कि जब हाइवे पर कई बडी शिक्षण संस्थाएं हैं तो मजदूरों को वहीं रोका जा सकता था। शहर के बीच में इन्हें एकत्रित करने का जिला प्रशासन ने इंतजाम क्यों किया?