BREAKING NEWS

मथुरा : यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसे में ट्रेनी दरोगा की मौत, दूसरा घायल || मथुरा : सडक हादसों में दो की मौत, एक गंभीर घायल || मथुरा : शराब की दुकानों का निशाना बना रहे चोर || मथुरा : डीएम मथुरा ने कहा हमारे यहां न शराब बन रही है न बिक रही है || मथुरा : मंदिरों में सुबह से ही शुरू हो गई पूजा अर्चना || मथुरा : छटीकरा में पटाखे की चिंगारी से हुआ अग्निकांड

लाठीचार्ज की घटना के बाद मथुरा ने बढाया जयंत का हौसला

मथुरा। हाथरस में राष्ट्रीय लोकदल के उपाध्यक्ष और मथुरा के पूर्व सांसद जयंत चैधरी पर हुए लाठी चार्ज के विरोध का कारवां मुजफ्फर नगर से होते हुए सोमवार का मथु रा पहुंच गया। मथुरा में हाइवे क्षेत्र के बालाजीपुरम में हुए जयंत चैधरी के समर्थम में महापंचायत का आयोजन हुआ। इससे पहले इसी तरह की महापंचायत मुजफ्फर नगर में हुई थी।


सरकार के खिलाफ आयोजित इस लाकतंत्र बचाओ रैली मंे तमाम राजनीतिक दलों के नेता सामिल हुए। लोद के आह्वान पर हुई महापंचायत में सपा, अकालीदल, आइएनएलडी के नेताओं के अलावा किसान संगठनों का भी समर्थन मिला है। रैली को सफल बनाने के लिए रालोद ने अपनी पूरी ताकत झौंक दी थी। सपाईयों ने भी अपनी तरफ से काई कोर कसर नहीं रखी। एमएलसी डॉ. संजय लाठर ने सपा की ओर से रैली को सफल बनाने का जिम्मा लिया था।
जयंत चैधरी ने कहा कि मैं उनकी जगह होता तो मुख्यमंत्री को सबसे पहले पीडित परिवार से जाकर मिलना चाहिए। अगर 15 दिन के अंदर पुलिस भर्ती की प्रक्रिया पूरी होनी चाहिए। राजनीतिक विरोधियों का इस तरह से विरोध कराना स्वीकार नहीं है। यह हमारे संस्कारों में ही नहीं है। धर्मेन्द्र यादव होते, अखिलेश यादव होते मैं होता तो सबसे पहले पीडित परिवार से जाकर मिलता। मुख्यमंत्री को जबाव देना होगा। हमने फैसला किया है हम उनसे मिलेंगे, सडक पर मिलेंगे। उन्होंने जो लम्बे चैडे भाषण दिये थे वायदे किये थे उन पर जबाव मांगेंगे। महापंचायत में अकाली दल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष जगमीत सिंह बरार ने कहा पंजाब में सब केंद सरकार के खिलाफ मिलकर लड़ाई लड़ रहे हैं।     

                                                                        
  धर्मेंद्र यादव ने कहा कि जयन्त का हाथरस में जो अपमान हुआ वो केवल उनका अपमान नही है। चैधरी साहब की विरासत, किसानों का अपमान है। जब तक ये सरकार उखाड़ नही फेंकेंगे चैन से नही बैठेंगे।और पंचायतों का भी आयोजन होगा। भाजपा ने पूरे देश को गुमराह किया। फसल लागत का दोगुना फायदा कराने को कहा था। लेकिन नही किया। साढ़े तीन सरकार की हो गयी, 14 हजार गन्ना किसानों का बकाया है। गन्ना के किसान आत्महत्या कर रहे ये दुर्भाग्य है। ब्रज की भूमि से निर्णायक लड़ाई हो। बाबा साहब की सरकार को उकहाड फेंकने का आह्वान किया। रालोद और सपा का गठबंधन भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने तक रहेगा।

भाजपा फिर हिन्दू मुस्लिम का नारा देकर बांटने की कोशिश करेगी, लेकिन बंटना नही हैः चैटाला
इनेलो के अभय चैटाला बोले कि मुजफ्फर नगर की पंचायत में किसानों में गुस्सा दिखा था। चैधरी चरण सिंह वह शख्सियत थे जिन्होंने किसानों के लिए काम किया। दूसरा नाम देवी लाल का आता है। जब किसान का कांग्रेस की सरकार अत्याचार कर रही थी तब देवीलाल और प्रकाश सिंह बादल ने मोर्चा संभाला। वे बोले कि जयंत पर लाठी चार्ज का पूरे देश के किसानों का अपमान किया गया है। किसान के लिए लड़ाई कहीं भी लड़नी पड़े हम लड़ेंगे। हमे केवल मंच नही साझा करना है।

रालोद के साथ रैली में शामिल सपा कार्यकर्ताः लाठर
राष्ट्रीय लोकदल की किसान बचाओ लोकतंत्र बचाओ रैली में सपा कार्यकर्ता भी शामिल हुए।। समाजवादी पार्टी के एमएलसी डॉ. संजय लाठर ने बताया कि हजारों समाजवादी समर्थकों के इस रैली में सहभागिता की है। उन्होंने कहा कि आज किसान की पीठ पर लाठी मारने का काम योगी और मोदी सरकार कर रही है। समाजवादी पार्टी सड़क से संसद तक इसका विरोध करेगी।

सतर्क रहा प्रशासन, आलाधिकारियों ने एक दिन पहले ही डाल दिया था मथुरा में डेरा
प्रहाथरस में हुए लाठीचार्ज के विरोध में रालोद की महापंचायत में जुटने वाली भीड़ को देखते हुए पुलिस अधिकारियों ने योजनाबद्ध तरीके से तैयारी की थी। इसके लिए एक दिन पूर्व रविवार को एडीजी अजय आनंद तथा आईजी ए सतीश गणेश ने पुलिस लाइन पहुंचकर अधिकारियों को निर्देश दिए। एडीजी ने रालोद के कार्यक्रम को लेकर न केवल तैयारियों की जानकारी ली बल्कि बालाजीपुरम पहुंचकर सभा स्थल का निरीक्षण भी किया था। इस दौरान एसएसपी गौरव ग्रोवर के अलावा एसपी क्राइम राधेश्याम रॉय, एसपी सिटी उदयशंकर सिंह, एसपी देहात श्रीश चन्द्र भी मौजूद रहे। 

सभा स्थल को जाने वाले हर रास्ते पर चला चैकिंग अभियान
सभा स्थल को जाने वाले जनपद के तमाम मार्गाें पर दिनभर संघन चैकिंग अभियान चला। पुलिस दो पहिया और चार पहिया वाहन चालकांे की तलाशी लेती रही। इस दौरान बडी संख्या मंे वाहनांे के चालान भी काटे गये वहीं कुछ वाहनांे को सीज भी किया गया। हाथरस और अलीगढ की ओर से आने वाल वाहनों की तलाशी का अभियान राया रोड और लक्ष्मीनगर पर चला। इसी तरह टाउनशिप, एनएच टू पर कई जगह चैकिंग की गई। नौहझील, बाजना, मांट, सौंख, बल्देव आदि की ओर से आने वाले वाहनों को भी रोक कर चैकिंग की गई।

 


कोरोना विशेष

कोरोनाः स्वास्थ्य कर्मियों, बुजुर्गों, गंभीर रोगियों को लगेगी सबसे पहले वैक्सीन  

Read More

हमारी बात

गाँधी जी को जानने के लिए आपको पढ़ना होगा और उन स्थानों पर जाना होगा जहाँ गांधीजी का सफर रहा है. सभी के अपने अपने मत है..समाज में अच्छाई से लेकर बुराई तक उनके बारे में भरी पड़ी है.

Read More

Bollywood

दर्शन