Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

जयपुर : गहलोत-पायलट की लड़ाई में अटकी राजनीतिक नियुक्तियां, अब करना होगा लंबा इंतजार || बिहार में बाढ़ से 21 लोगों की मौत, 69 लाख की आबादी प्रभावित || कोरोना : पंडा पुजारी मांग कर रहे है मुआवजे की || MATHURA : पुलिस बोली डिप्रेशन में था इंजीनियर, कानपुर से किया बरामद

HYDERABAD GANG RAPE MURDER: मुठभेड़ की जांच करने पहुंची एनएचआरसी टीम

हैदराबाद। हैदराबाद में महिला पशुचिकित्सक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के सभी चार आरोपी शुक्रवार तड़के पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में मारे गए और अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की एक तथ्यान्वेषी टीम इसी मुद्दे की जांच करने शनिवार को तेलंगाना पहुंच गई हैं। NHRC की टीम महबूबनगर सरकारी अस्पताल पहुंची, यहां आरोपियों के शव रखे गए हैं।

दो-सदस्यीय टीम के इसके बाद हैदराबाद से लगभग 50 किलोमीटर दूर शादनगर के पास चटनपल्ली गई हैं, जहां पुलिस के साथ मुठभेड़ में ये चारों आरोपी मारे गए।
सूत्रों ने कहा है कि सबसे पहले टीम 'मुठभेड़' स्थल का निरीक्षण करेगी और ऐसा इस घटना में शामिल पुलिस अधिकारियों से संबंधित जानकारी को एकत्रित करने के मद्देनजर किया जाएगा।

इसके बाद टीम सरकार द्वारा संचालित उस अस्पताल का दौरा करेगी, जहां शुक्रवार शाम को इन चार आरोपियों के शवों का परीक्षण करने के पश्चात उन्हें संरक्षित कर रखा गया है। एनएचआरसी ने शुक्रवार को हुई इस घटना का संज्ञान लेते हुए इस पर जांच के आदेश दिए। आयोग ने कहा है कि यह मुठभेड़ एक चिंता का विषय है और इसकी सावधानी से जांच किए जाने की आवश्यकता है। आयोग ने महानिदेशक (जांच) को तथ्यों का पता लगाने और घटनास्थल की जांच करने के लिए तुरंत एक टीम भेजने को कहा। आयोग के जांच प्रभाग की टीम का नेतृत्व एक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) करेंगे। मानवाधिकार आयोग का यह भी मानना है कि पुलिसकर्मी आरोपियों द्वारा अंजाम दी जाने वाली इस तरह की संभावित घटना को लेकर सतर्क और तत्पर नहीं थे, जिसके कारण चारों की मौत हो गई।

आयोग ने कहा कि जांच के दौरान पुलिस द्वारा इन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था और सक्षम अदालत द्वारा मामले में फैसले को सुनाया जाना अभी बाकी था। यदि गिरफ्तार किए गए व्यक्ति वाकई में दोषी हैं, तो उन्हें सक्षम अदालत के निर्देशानुसार कानून के मुताबिक दंडित किया जाना था।

 

 साभार-khaskhabar.com


कोरोना विशेष

मथुरा। मुड़िया मेला, हरियाली तीज, रक्षाबंधन के बाद अब श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर कोरोना का ग्रहण लग गया है। राधाष्टमी, बल्देव छठ जैसे ब्रज के आंचलिक आयोजन भी बिना भीडभाड के होंगे। मंदिरों पर भीड नहीं है।  

Read More

हमारी बात

मथुरा। देशभक्ति के कितने ही स्वरूप हो सकते हैं। कोरोना संकट ने ये साबित कर दिया कि देशभक्ति दिखने के लिए आप के आपके पास किसी भी जगह मौका है। एक नौजवान चिकित्सक ने कोरोना के मरीजों के इलाज में अपनी पूरी ताकत झौंक दी है।  

Read More

Bollywood

दर्शन