Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

MATHURA : किसानों के बीच पैठ मजबूत करने में जुटी कांग्रेस || MATHURA : गंदगी से परेशान हैं वार्ड 43 के निवासी || MATHURA : बरसाना में शुरू हुआ 12 दिवसीय निःशुल्क चिकित्सा शिविर || मथुरा : आहट से कर्मचारियों में बढ़ी बेचैनी

राजस्थान के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने अपने समकक्ष गुरप्रीत सिंह कांगड़ से की मुलाकात

चंडीगढ़। राजस्थान के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी की अध्यक्षता अधीन राजस्थान के सीनियर अधिकारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार यहां चंडीगढ़ स्थित पंजाब भवन में पंजाब के राजस्व मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ के साथ मुलाकात की।

मीटिंग सम्बन्धी जानकारी देते हुए कांगड़ ने बताया कि राजस्थानी प्रतिनिधिमंडल के इस दौरे का उद्देश्य मुख्यमंत्री पंजाब, कैप्टन अमरिन्दर सिंह के योग्य नेतृत्व अधीन पंजाब के राजस्व विभाग द्वारा अपनाई गई उत्तम कार्य प्रणाली को राजस्थान में लागू करके राजस्व विभाग के कामकाज को और सुचारू बनाना है।

राजस्थान और पंजाब के राजस्व मंत्रियों की औपचारिक मीटिंग के बाद दोनों राज्यों के राजस्व विभाग के अधिकारियों ने विस्तृत विचार चर्चा की। इस दौरान पंजाब में राजस्व विभाग के रेवेन्यू एक्ट, नियमों और प्रशासनिक व्यवस्था पर विचार-विमर्श किया गया। इस मौके पर राजस्थान के अधिकारियों द्वारा पंजाब राज्य की ज़मीनी मलकीयत सम्बन्धी तैयार की गई जमाबन्दी प्रणाली में गहरी रूचि दिखाई, जिसके स्वरूप पंजाब में हरित क्रांति आई।

पंजाब द्वारा ज़मीनी रिकॉर्ड के कम्प्यूटरीकरण की पहलकदमी से राजस्थानी प्रतिनिधिमंडल बहुत प्रभावित हुआ और पंजाब में राजस्व रिकाॅर्ड की देख-रेख और अपडेशन को विस्तार से समझा।

मीटिंग में अन्यों के अलावा विशेष मुख्य सचिव (राजस्व) पंजाब, केबीएस सिद्धू, अतिरिक्त सचिव राजस्व पंजाब, कैप्टन करनैल सिंह से राजस्थान प्रशासनिक सेवाओं के अधिकारी एल.आर. गुग्गरवाल और राकेश शर्मा शामिल थे।

 

 साभार-khaskhabar.com

 


संपादकीय

विशाल अग्रवाल ने बताया कि चालान सिर्फ ट्रफिक पुलिस काटे सभी पुलिस कर्मियों को इसकी जिम्मेदारी न दी जाये तो 50 प्रतिशत तक सही तरीके से काम हो पायेगा। जबकि आकाशवाणी के पूर्व उद्घोषक श्रीकृष्ण शरद, राकेश रावत एडवोकेट, पी0 के0 वार्ष्णेय, अरविन्द चौधरी, जगन्नाथ पौद्दार, पवन शर्मा, महेन्द्र राजपूत, जितेन्द्र गर्ग, सपन साहा, प्रताप विश्वास इन सभी ने माना कि इसमें पुलिस का फायदा अधिक होगा।  

Read More

तीसरी आंख

पुलिस लाइन के सामने क्या करने आया था लूट हत्या मुठभेड में वांछित 25 हजार का इनमी?

Read More

Bollywood

दर्शन