Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

MATHURA : दुकानदारों से कहा सोशल डिस्टेंसिंग बनाएं || MATHURA : तीन माह के बिजली बिल, फीस माफी को चलाया हस्ताक्षर अभियान || MATHURA : धार्मिक संगठन और संस्थाएं लगातार कर रहीं सरकार से मदद की अपील || MATHURA : सीडीओ ने मांट में विकास कार्यों का जायजा लिया || कोरोना संकट : परिवारों को पहुंचाये राशन बैग

देश में 5,609 कोविद-19 के नए मामले,132 मौतें,39.6 प्रतिशत स्वस्थ हुए

नई दिल्ली :स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार देश में पिछले 24 घंटों में 5,609 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं और 132 मौतें हुई हैं। देश में कुल मामलों की संख्या अब 1,12,359 हो गई है, जिसमें 63,624 सक्रिय मामले और 3,435 मौतें शामिल हैं।

भारत सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ मिलकर श्रेणीकृत, नियोजित और अग्रसक्रिय दृष्टिकोण से कोविड-19 के रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन के लिये उपाय किये हैं। इन उपायों की नियमित रूप से उच्चतम स्तर पर समीक्षा और निगरानी की जा रही है।

भारत कोविड-19 की गति को धीमी करने में आगे बढ़ा है और इसका असर कोविड-19 के मामलों के आंकड़ों से परिलक्षित होता है। विश्व में प्रति लाख जनसंख्या पर 62.3 मामलों के मुकाबले भारत में प्रति लाख जनसंख्या पर केवल 7.9 मामले हैं। इसी तरह प्रति लाख जनसंख्या में भारत की औसत मृत्यु दर 0.2 है जबकि विश्व में औसत मृत्यु दर 4.2 बनती है। मृत्यु के कम आंकड़ों से समय पर मामलों की पहचान और मामलों के क्लीनिकल प्रबंधन का पता चलता है।

क्लीनिकल प्रबंधन और रोगियों के स्वस्थ होने पर ध्यान केंद्रित करने से स्वस्थ होने की दर में सुधार हुआ है। पुष्ट मामलों में से 39.6 प्रतिशत स्वस्थ हुए हैं और वर्तमान में उनकी संख्या 42,298 है। इससे यह स्मरण होता है कि ये रोग साध्य है और क्लीनिकल प्रबंधन के निर्देशों के अनुसार किए जा रहे भारत के प्रयास कारगर हैं। यह भी देखा गया है कि कुल सक्रिय मामलों के लगभग 2.9 प्रतिशत रोगियों को ऑक्सीजन की जरूरत होती है। है। 3 प्रतिशत सक्रिय रोगियों को आईसीयू में रखा जाता है और 0.45 प्रतिशत रोगियों को वेंटिलेटर की आवश्यकता होती है। भारत कोविड के विशेष स्वास्थ्य ढांचे को उन्नत बनाने पर ध्यान दे रहा है।


साभार-khaskhabar.com