Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

कर्नाटक में बस में आग लगी, परिवार के 5 लोग जिंदा जले || संघ प्रमुख मोहन भागवत बोले-स्वदेशी का मतलब विदेशी वस्तुओं का बहिष्कार नहीं || वाराणसी : अतिरिक्त सीएमओ की कोरोना से मौत, परिजनों को दिया दूसरे का शव

कोरोनो वायरस : जागरूकता में कमी के कारण अमेरिका में व्यापक प्रकोप फैला

बीजिंग। अमेरिकी रोग नियंत्रण केंद्र के अध्यक्ष रॉबर्ट रेडफील्ड ने एबीसी के साथ इंटरव्यू में पहली बार यह स्वीकार किया कि ट्रम्प सरकार यूरोप से नए कोरोना वायरस के खतरे को पहचानने में धीमी रही है, जिससे अमेरिका में व्यापक प्रकोप फैला। उन्होंने कहा कि अमेरिका की समस्या का एहसास होने से पहले ही यूरोप में नया कोरोनोवायरस अमेरिका में फैल गया था। यह स्थिति अमेरिका में कोविड-19 महामारी फैलने का मुख्य कारक है।

अमेरिकी रोग नियंत्रण केंद्र द्वारा हाल ही में जारी एक विश्लेषण रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका ने इस साल 13 मार्च को यूरोपीय देशों में यात्रा प्रतिबंधों को लागू करना शुरू कर दिया था, लेकिन 8 मार्च तक न्यूयॉर्क राज्य में कई समुदायों में नया कोरोना वायरस फैल गया था। 15 मार्च तक, वाशिंगटन राज्य सहित अमेरिका भर में कई समुदायों में नया कोरोना वायरस फैलना शुरू हो गया था।

अप्रैल की शुरूआत में, सीएनएन ने कहा था कि दो स्वतंत्र अनुसंधान रिपोर्टों के अनुसार, न्यूयॉर्क में पहली बार फैलने वाला नया कोरोना वायरस यूरोप या अमेरिका के अन्य हिस्सों से आया हो, एशिया से नहीं। लेकिन इस स्थिति में, ट्रम्प सरकार यूरोपीय देशों के यात्रियों पर यात्रा प्रतिबंध लगाने के लिए प्रारंभिक उपाय करने में विफल रहा।

इटंरव्यू में रॉबर्ट रेडफील्ड ने यह भी स्वीकार किया कि संघीय सरकार और स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा महामारी का मुकाबला किये जाने के दौरान कई समस्याएं हुईं और उन्होंने कई गलतियां की हैं। लेकिन वर्तमान स्थिति में संक्रमण से बचाव के लिए मास्क पहनना सबसे अच्छा तरीका है। 


साभार-khaskhabar.com

 


कोरोना विशेष

मथुरा। मुड़िया मेला, हरियाली तीज, रक्षाबंधन के बाद अब श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर कोरोना का ग्रहण लग गया है। राधाष्टमी, बल्देव छठ जैसे ब्रज के आंचलिक आयोजन भी बिना भीडभाड के होंगे। मंदिरों पर भीड नहीं है।  

Read More

हमारी बात

मथुरा। देशभक्ति के कितने ही स्वरूप हो सकते हैं। कोरोना संकट ने ये साबित कर दिया कि देशभक्ति दिखने के लिए आप के आपके पास किसी भी जगह मौका है। एक नौजवान चिकित्सक ने कोरोना के मरीजों के इलाज में अपनी पूरी ताकत झौंक दी है।  

Read More

Bollywood

दर्शन