Editor's Picks

Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image
Owl Image

BREAKING NEWS

जयपुर : गहलोत-पायलट की लड़ाई में अटकी राजनीतिक नियुक्तियां, अब करना होगा लंबा इंतजार || बिहार में बाढ़ से 21 लोगों की मौत, 69 लाख की आबादी प्रभावित || कोरोना : पंडा पुजारी मांग कर रहे है मुआवजे की || MATHURA : पुलिस बोली डिप्रेशन में था इंजीनियर, कानपुर से किया बरामद

इन उपाय को करने से बनते है शीघ्र विवाह के मार्ग

यह बात हम सभी जानते है कि हर माता-पिता अपनी संतानों की शादी के लिए बहुत चिंतित और परेशान रहते है और वे चाहते है कि उनकी संतान को सुयोग्य वर या वधु समय पर मिल जाएं।

शादी लडकियों के माता पिता के लिए एक बड़ी वजह है क्योकि ये माना जाता है कि लडकी की शादी समय पर ना हो तो उसके लिए रिश्ते मिलना मुश्किल हो जाता है और लडकी का रिश्ता तय होने में कभी कभी रिश्ते टूटते भी है।

- जन्मकुंडली में कई ऐसे योग होते हैं जिनकी वजह से कोई भी पुरुष या स्त्री की विवाह में काफी रूकावट आती है। कई बार ये रूकावट बाहरी बाधाओं की वजह से भी आती हैं। इस प्रकार की स्थिति होने पर शीघ्र विवाह के उपाय करने में समझदारी रहती है। इन उपाय को करने से शीघ्र विवाह के मार्ग बनते है, तथा विवाह मार्ग की समस्त बाधाएं दूर होती है।

- रविवार के दिन एक पीला कपडा लें और उसमे 7 सुपारी, 7 हल्दी की गांठ, 7 गुड की ढेली, 7 पील फुल, 70 ग्राम चने की दाल, 70 सेंटीमीटर पीला कपडा और 1 पंद्रह का यंत्र रख लें। अब आप इन सबसे माता पार्वती की पूजा करें और पूजन के बाद इन सबको 40 दिनों तक अपने घर में रखें। माता पार्वती के आशीर्वाद से इन 40 दिनों के भीतर ही आपके विवाह के योग बनने आरंभ हो जायेंगे। गुरुवार के दिन व्रत रखें और पीली वस्तुओं जैसे पीले कपडे, चने के दाल, हल्दी, या गुड इत्यादि का दान करें तो उन्हें शीघ्र ही लाभ मिलता है। साथ ही व्रत के दौरान उन्हें ब्रहस्पति व्रत कथा भी पढनी चाहियें और केले के पेड पर जल चढाना चाहिये। ध्यान रहें कि आप दिन में कभी भी न सोयें और श्याम के समय पीला ही भोजन करने। इस तरह आप इस उपाय को 21 गुरुवार तक अपनायें।

साभार-khaskhabar.com


कोरोना विशेष

मथुरा। मुड़िया मेला, हरियाली तीज, रक्षाबंधन के बाद अब श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर कोरोना का ग्रहण लग गया है। राधाष्टमी, बल्देव छठ जैसे ब्रज के आंचलिक आयोजन भी बिना भीडभाड के होंगे। मंदिरों पर भीड नहीं है।  

Read More

हमारी बात

मथुरा। देशभक्ति के कितने ही स्वरूप हो सकते हैं। कोरोना संकट ने ये साबित कर दिया कि देशभक्ति दिखने के लिए आप के आपके पास किसी भी जगह मौका है। एक नौजवान चिकित्सक ने कोरोना के मरीजों के इलाज में अपनी पूरी ताकत झौंक दी है।  

Read More

Bollywood

दर्शन